Friday, 11 August 2017

Blue Whale Game क्या है और इससे कैसे सुरक्षीत रहे ?

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे WebRaksha वेबसाइट पर स्वागत है | दोस्तों इंटरनेट की इस भूल भुलय्या दुनिया में कुछ लोग इस कदर खो जाते है की उनको अपने आसपास का थोड़ा भी ध्यान नहीं रहता | ऐसे लोग हमेशा ही मोबाईल से चिपके रहते है | इसे एक बुरी आदत ही कहा जा सकता है | हमेशा यही देखा गया है की ऐसे ही लोग किसी बुरे हादसे का शिकार हो जाते है | या किसी गंभीर समस्या में फस जाते है |

आज की इस पोस्ट में हम आपको Blue Whale नामक एक खतरनाक गेम की जानकारी दे रहे है | खास तौर पर उनके लिए ये जानकारी बहुत ही महत्वपूर्ण है जिनको मोबाईल में हमेशा चिपके रहने की बुरी आदत है  और जिनकी उमर 18 साल से कम है | और उन माता पिताओंके लिए भी जिनके बच्चे 18 साल से कम उमर के है और मोबाईल पर हमेशा चिपके रहते है |


blue-whale-ki-jankari

 Blue Whale Game क्या है ?             

ब्लू व्हेल गेम कोई ऑनलाइन डाउनलोड होनेवाला गेम नहीं है जिसे आप किसी Playstore में से या किसी वेबसाइट से डाउनलोड नहीं कर सकते | ये कोई ऎप्स, प्रोग्राम या सॉफ्टवेयर भी नहीं है |इस गेम को आप मोबाईल, टॅब या पीसी पर भी नहीं खेल सकते है | इस गेम को सोशल मिडिया साइट्स द्वारा उन बच्चों तक पहुँचाया जाता है जिनकी उम्र 18 साल से कम है |  जहा एक क्यूरेटर इनसे बात करता है | और उन्हें इस गेम को खेलने लिए मजबूर करता है |  

हमारी इस पोस्ट को भी जरूर पढ़े :
फ्री में ब्लॉग या वेबसाइट कैसे बनाये इसकी पूरी जानकारी हिंदी में 

ब्लू व्हेल गेम एक खतरनाक गेम है जो प्लेयर्स को सुसाइड करने के लिए मजबूर करती है  | इस गेम को पूरा करने के लिए प्लेयर्स को 50 दिन का समय मिलता है | इस गेम के क्यूरेटर द्वारा प्लेयर्स को हर एक दिन एक चॅलेंजिंग टास्क दिया जाता है | जैसे की किसी साधारण विडिओ गेम में हमें स्टेप्स दिए जाते है और हर एक स्टेप्स को पूरा करके गेम को कंप्लीट करना होता है | 

इस ब्लू व्हेल गेम में शुरुवात में आपको आसान से चॅलेंजींग टास्क दिए जाते है | जैसे की कागज पर ब्लू व्हेल की खतरनाक तस्वीर बनाना, रात के अंधेरे में किसी भयानक जगह जाना, हॉरर मूव्ही देखना | ये सब चॅलेंज पूरा करने पर आपको खतरनाक चॅलेंज पूरा करने का टास्क दिया जाता है | जैसे की ब्लेड से अपने हातो पर ब्लू व्हेल की तस्वीर बनाना,  हातो की 3 नसे काटना,  पैरो पर ब्लेड से S बनाना ऐसे कई खतरनाक चॅलेंज को पूरा करके उसकी फोटो खींच के गेम क्यूरेटर को भेजना होता है | अंतिम चॅलेंज टास्क ये होता है की छत पर से या बिल्डिंग से छलांग मारके आत्महत्या करना |


हमारी इस पोस्ट को भी जरूर पढ़े :
ऑनलाइन पैसे कमाए दुनिया की टॉप वेबसाइट पर जानिए हिंदी में 

The Blue Whale गेम की शुरुवात कहा और किसने की ?     

इस खुनी और खतरनाक गेम की शुरुवात " रूस " में 2013 में हुई | इस गेम को Psycology Student " Philip Budeikin " नामक व्यक्ति ने बनाया | यह व्यक्ति अभी जेल में कैद है |


इस ब्लू गेम के आज तक कितने व्यक्ति शिकार हुए है ?        

इस गेम के प्रभाव आकर दुनिया भर में आज तक 250 व्यक्तियो ने आत्महत्या की है |इनमे से 130 बच्चे रूस के है |  आत्महत्या करने वाले सभी व्यक्ति युवक, युवती, किशोर अवस्था के थे |

भारत में मुंबई के अंधेरी ईस्ट में एक 14 वर्षीय बच्चे ने इस गेम को खेलने के बाद 6 मंजिला ईमारत से कूदकर आत्महत्या कर ली |

दूसरी घटना है इंदौर की जहा पे 7 वी कक्षा के एक छात्र ने ब्लू व्हेल गेम खेलते हुए आत्महत्या करने का प्रयास किया | उसके दोस्तों ने उसे बचा लिया |

हमारी इस पोस्ट को भी जरूर पढ़े :
फेसबुक की जानकारी और कुछ रोचक बाते जानिए हिंदी में 

ब्लू व्हेल गेम से कैसे सुरक्षित रहे ?

दोस्तों हमारी इस जानकारी से आप जान गए होंगे की आप अपने दोस्तों को ये सलाह तो नहीं दे सकते की इस ब्लू व्हेल गेम को अपने मोबाईल या पीसी में इंस्टॉल ना करे | अब आप इस सोच में पड़ गए होंगे की इस ब्लू व्हेल गेम से कैसे सुरक्षित रहे ? तो चलिए ये जान लेते है की इस खतरनाक गेम से कैसे सुरक्षित रहे | 

ब्लू व्हेल गेम की घटनाओं से ये नतीजा सामने आया है की बच्चे ही इस गेम का ज्यादातर शिकार हो रहे है |ऐसे में हर माता पिता की जिम्मेदारी है की वो अपने बच्चों को इस गेम के बारे और इसके गंभीर परिणामों से अवगत कराये | इसके साथ बच्चों की हर ऑनलाइन गतिविधि पर नजर रखे | खास तौर पर सोशल मिडिया अकॉउंटस पर उनकी प्रोफइल चेक करे जैसे की :

  • फ्रेंड लिस्ट चेक करे 
  • ग्रुप और पेजेस चेक करे 
  • रोजाना नोटिफिकेशन चेक करे 
  • किसके साथ चॅटींग करते है ये चेक करे 
  • अपलोड, डाउनलोडकिये गए  विडिओज और फोटोज चेक करे 
  • ईमेल अकाउंट चेक करे 
  • ब्राउज़र हिस्ट्री चेक करे 
हमारी इस पोस्ट को भी जरूर पढ़े :
Google की जानकारी हिंदी में 


साथ ही बच्चों की भौतिक गतिविधि पर भी नजर रखे | अगर कोई बच्चा इस गेम की चपेट में आ जाता है, तो वो कुछ इस तरह से बर्ताव करता है ,

  • ऐसे बच्चे बात बात पर झगड़ते है 
  • हमेशा बंद कमरे में रहते है 
  • समय पर खाना नहीं खाते है 
  • कसीसे ज्यादा बात नहीं करते है 
  • देर रत तक जागते है 
  • हमेशा डरे हुए रहते है 
  • ये चेक करे की बच्चों के शरीर पर ब्लेड से या चाकू से कोई स्क्रॅचेस तो नहीं है 

स्कूलो में भी इस गेम से दूर रहने के लिए बच्चों को अच्छी तरह से मार्गदर्शन मिलना चाहिए | स्कूल में हर कंप्यूटर शिक्षक अपने छात्र को इसके बारे मे पूरी जानकारी दे |

हमारी इस पोस्ट को भी जरूर पढ़े :
इंटरनेट की रोचक जानकारी हिंदी में 

आशा करता हु की आपको हमारी ये जानकारी जरूर पसंद आयी होगी | आपको हमारी ये जानकारी कैसी लगी इसके बारे में आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट जरूर करे | साथ ही आप सबको हमारा ये अनुरोध है की आप हमारी इस पोस्ट को सोशल मीडिया साइट पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करे | धन्यवाद ! 

4 comments

बेहतरीन लेख .... तारीफ-ए-काबिल .... Share करने के लिए धन्यवाद...!! :) :)

अच्छी जानकारी दी आपने..


EmoticonEmoticon