Wednesday, 10 January 2018

Blogger Blog पर Language and Formatting की Setting कैसे करे ? इसकी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे Webraksha Website पर स्वागत है | दोस्तों अगर आपने Blog बना लिया है तो ये बहुत ही अच्छी बात है | लेकिन क्या आपको पता है की Blog बनाने के बाद उसकी setting करना कितना  Important Part है | पिछली Post में हमने Blogger Blog पर Email Setting कैसे करते है ? इसके बारे में जान लिया |  आज की इस Post में हम Blogger Blog पर Language and Formatting की Setting कैसे करे इसके बारे में चर्चा करेंगे |


blogger-setting-language-and-formatting


Blogger Blog पर Language and Formatting की Setting कैसे करे ?

Step 1 : 

सबसे पहले Blogger.com पर Log-in करके Dashboard << Setting << Language and Formatting पर जाये | 


blogger-setting-language-and-formatting


Step  2 :


Language 

1 : Language : यहा पर Language को English ( United Kingdom ) रखे |


 2 : Enable Transliteration : यहा पर अगर आप Enable Transliteration में दी गयी सूचि में से जिस भाषा को Enable करेंगे तो Post Editor में English Word को उस भाषा में Convert करेंगे | उदहारण के लिए अगर आप हिंदी Blogger है तो आपको हिंदी भाषा को Enable करना है | इसके बाद आप पोस्ट एडिटर में जाये | Post Editor में Language Tool Par "" इस Word को Select करे | अब Post Editor में " Namaskar " Word को Type करे इसके बाद ये English word " नमस्कार " इस हिंदी Font  में convert हो जायेगा | अगर आपका Blog English भाषा में है तो Enable Transliteration को Disable रखे |

हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :

Step : 3

Formatting :

1 : Time Zone : Time Zone में India Standard Time को Select करे |

2 : Date Header Format : ये Format Blog Post के ऊपर दिखाई देता है | अगर ये Format नहीं दिखाई दे रहा है तो Dasboard << Layout  << Blogpost Gadget << Edit पर जाए | यहा पर एक Pop-up Window ओपन होगी | इस Window पर Post Page Option के निचे Tik करे |

 3 : Timestamp Format : इस Format को Blogpost के लिए सेट किया जाता है |



4 : Comment Timestamp Format : इस Format को Post Comment के लिए सेट किया जाता है |

Last में Save Setting पर Clik करे | अब आपकी Language and Formatting की Setting Successfully Done हुई है |

हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :

आशा करता ही की आपने हमारी इस Post को जरूर Enjoy किया होगा | आपको हमारी पोस्ट कैसी लगी या इस पोस्ट से संबंधित कुछ सवाल है तो Comment Box में Comment जरूर करे | हमारी इस पोस्ट को Social Media Site पर भी जरूर share करे | हमारे साथ बने रहने के लिए Social Media Site पर हमें Follow जरूर करे | धन्यवाद्
   
Read More

Saturday, 6 January 2018

WiFi क्या है ? Wifi कैसे काम करता है ? इसकी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे WebRaksha वेबसाइट पर स्वागत है | आप सब WiFi Technolgogy से तो आप अच्छी तरह परिचित होंगे ही | आज की इस पोस्ट में हम WiFi क्या है और ये कैसे काम करता है इसके बारे में चर्चा करेंगे |Internet की रोचक जानकारी हिंदी में पढ़िए 


WiFi क्या है ?

Wifi का मतलब है Wireless Friendly | WiFi Technology का अविष्कार John O'Sullivan और John Deane ने 1991 में किया |  WiFi एक Wireless Networking Protocoll है जिसमे Radio Waves का उपयोग करके Networking Connectivity Provide की जाती है | WiFi जो की IEEE 802.11 Standard Base पर काम करती है | तो चलिए सबसे पहले IEEE 802.11 Standard क्या है इसके बारे में विस्तार से चर्चा करते है |

IEEE 802.11 Standard क्या है ?

1997 में Institute of Electrical and Electronics Engineers ( IEEE ) ने पहला WLAN Standerds का निर्माण किया जिसे IEEE 802.11 कहा जाता है | इसका शुरू में DATA Speed 2mbps था | IEEE 802.11 जो की Wireless Local Area Network ( WLAN ) Computer Communication में  Frequency Brand को Implement करने के लिए Media Access Control ( MAC ) Physical Layer Specification का एक Set है |

1999 में IEEE 802.11a Standerd का निर्माण किया गया | इस में Data Speed 54 mbps और Frequency 5 GHZ है |

1999 में ही IEEE 802.11b Standerd का निर्माण किया गया | इस में Data Speed 11 Mbps और Frequency 2.4 GHZ है |

2003 में IEEE 802.11g Standerd का निर्माण किया गया | इस में Data Speed 54 Mbps है और  Frequency 2.4 GHZ है |

2009 में IEEE 802.11n Standerd का निर्माण किया गया | इस में Data Speed 300 Mbps है और Frequency 2.4 GHZ है |

IEEE 802.11ac जो की Newest Generation Standerd है | इसका निर्माण 2013 में किया गया |  इसकी 5 GHZ Frequency पर 1300 से ज्यादा Data speed है और 2.4 Frequency पर 450 Mbps से ज्यादा Data Speed है |

हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :

 WiFi कैसे काम करते है ?

Wifi Technology को Computer, Laptop, Mobile, Tablets, Digital Camera, Smart TV, Digital Audio Players और Medern Printers में Use किया जाता है | तो चलिए Wifi कैसे काम करता है इसको हम विस्तार से जानते है |

WiFi Technology में Main Role होता है Router का ,  Router को Phone या Cable के साथ Connect किया जाता है,Internet Service Provider ( ISP ) द्वारा भेजे गए Binary SignalsData ) को Router द्वारा Recieve किया जाता है | भेजे गए Binary Signals को Router द्वारा Radio Signals में Convert किया जाता है | Convert किये गए Radio Signals को हवा के माध्यम से Electronics उपकरण जैसे की  Laptop, Smartphone, Tablets या Game Console पर Recieve करके Internet का उपयोग किया जाता है |

हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :

अगर हम सार्वजनिक स्थान ( Downtown Center, Cafes, Airports and Hotels ) पर Network Device द्वारा Internet का उपयोग करते है उसे WiFi Hotspot कहा जाता है | Hotspot मतलब की Wireless Access Point ( WAP )जो आपके Mobile या Laptop जैसे उपकरणों में सार्वजनिक स्थान पर Internet का उपयोग करने की सुविधा प्रदान करता है |

WiFi सबसे अधिक 2.4 gigahertz ( 12 cm ) UHF और 5.8 gigahertz ( 5cm ) SHF ISM Radio Band का उपयोग करता है |

हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :

We hope की आपको हमारी ये पोस्ट जरूर पसंद आयी होगी | आपको हमारी Post कैसी लगी इसके बारे में Comment Box में Comment जरूर करे | साथ ही हमारी इस पोस्ट को Social Media Site पर जरूर Share करे | धन्यवाद 

Read More

Friday, 8 December 2017

Blogger Blog पर Email सेटिंग कैसे कैसे करते है ? इसकी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे WebRaksha Website पर स्वागत है | पिछली Post में हमने ये जान लिया की Blogger पर Post, Comment & Sharing की Setting कैसे करते है | आज की इस पोस्ट में हम Blogger पर Email Setting कैसे करते है इसके बारे में चर्चा करते है | इसकी जानकारी हिंदी में 




Blogger पर Email Setting कैसे कैसे करते है ?




Step : 1

सबसे पहले Blogger.com पर Log-in करे | इसके बाद Dashboard << Setting << Email पर जाये | 

Posting Using Email :

1 : यहा पर Address Box में Secret Word को Enter करे |
2 : Email Post को तुरंत Publish करना है तो यहा पर Tik करे |
3 : अगर Email Post को Draft में Save करके बादमे Publish करना है तो यहा पर Tik करे |

Step : 2

Comment Notification Email :

4 : यहा पर आप अपना Email - ID Type करेंगे तो आपके Bogpost पर कोई भी user अगर Comment करेगा तो उसकी Notification Email द्वारा Send की जाएगी |

Step : 3

Email Post to :

5 : यहा पर आपके New Blogpost की Notification टाइप किये गए Email list को Send की जाती है | यहा पर आप 1 से 10 तक Email - ID टाइप कर सकते है |

Last में Save Setting पर क्लीक करे | अब आपके Blog की Email Setting Successfully Done हो गयी है |

हमारी ये पोस्ट भी पढ़े :
Free में Blog या Website कैसे बनाये इसकी जानकारी हिंदी में 

आशा करता हु की आपको हमारी ये Post जरूर पसंद आयी होगी | आपको हमारी ये Post कैसी इसके बारे में आप हमें Comment Box में Comment जरूर करे | साथ आप हमारी इस पोस्ट को Social Media Site पर भी Share कर सकते है | धन्यवाद्  
Read More

Tuesday, 28 November 2017

Blogger Blog पर Post, Comment and Sharing की Settting कैसे करते है ? पूरी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे WebRaksha Website पर स्वागत है | दोस्तों अगर आप New Blogger है तो Blog बनाने के बाद आपको Blogger पर कुछ Setting की जरुरत है | पिछली पोस्ट में हमने Blogger में Basic Setting कैसे करते है इसके बारे में जान लिया | आज की इस Post में हम Blogger पर Post, Comment, and Sharing की Setting कैसे करते है इसके बारे में चर्चा करेंगे |

blogger-setting


Blogger पर Post, Comment and Sharing की Settting कैसे करते है ?


Step : 1

Blogger.com पर Log-in करे | इसके बाद Dashboard << Setting << Post Comment and Sharing पर जाए |

blogger-setting


Step : 2

Post :

1 : Show at most : यहा पर आपको अपने Blog के Home Page पर कितने पोस्ट कितने पोस्ट दिखने चाहिए ये टाइप करे | Post Template को ऐसे ही रहने दे |

2 : Showcase image with lightbox :
अगर आप main screen post में Image को Show करना चाहते है तो Yes करे नहीं तो No करे |

post-comment-sharing-setting



Step : 3  

Comment

1 : Comment Location : यहा पर आपको Blog के लिए Comment Box को कैसे दिखाना है इसके लिए Option Choose करना है | Generally Embeded को ही Choose करे |

2 : Who Can Comment : यहा पर Anyone पर Tik करे इससे आपकी Bolgpost पर कोई भी Comment कर सकता है |

3 : Comment Moderation : यहा पर Always पर Click करे |

4 : Show Word Varification : यहा पर Yes Option को Select करे |

blogger-post-comment-sharing-setting


5 : Google + Comment : यहा पर No Option को select करे |

blogger-post-comment-sharing-setting


हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :
Mobile Security के लिए Best Tips हिंदी में 

Step : 4 

Share to Google +

1 : Auto-share new published post to your Google + profile : अगर आप New Published Post को Google plus पर Auto-Share करना चाहते है तो Yes Option को Select करे नहीं तो No Option को Select करे |

2 : Prompt to share after Posting : यहा पर Yes Option को Select करे |
अब लास्ट में Save Setting पर Clik करके सब Setting को Save करे | अब आपकी पूरी Setting Successfully Done हो गयी है |

blogger-post-comment-sharing-setting


हमारी ये पोस्ट भी जरूर पढ़े :
Free में Blog या Website कैसे बनाये Blogger.com पर 

आशा करता हु की आपको हमरी ये Post जरूर पसंद आयी होगी | आपको हमारी ये Post कैसी लगी इसके बारे में आप हमें Comment Box में Comment जरूर करे | साथ ही आप हमारी इस पोस्ट को Social Media साइट पर जरूर Share करे | धन्यवाद्

Read More

Thursday, 23 November 2017

GPS Technology क्या है ? इसकी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों आपका हमारे " WebRaksha " Website पर स्वागत है | दोस्तों आप GPS Technology से अच्छी तरह से परिचित होंगे | अगर आप अपने मोबाइल में Google Map Apps का Use करते है तो उस apps को Use करने के लिए GPS को On करना पड़ता है | GPS को On करके Gogle Map पर आप किस Location पर है इसका तुरंत पता चलता है | Military, Air Force, Navy ,Agriculture, Police, Trafik जैसे क्षेत्र में GPS Technology का उपयोग बहुत ही फायदेमंद साबित हो रहा है | तो चलिए आज की इस पोस्ट में GPS Technology के बारे में चर्चा करेंगे |


gps-technology

हमारी ये पोस्ट भी पढ़िए :

GPS Technology क्या है ?


GPS का Long Form क्या है ?

GPS का Long Form है : Global Positioning System

GPS की जानकारी :

GPS जो की 20,000  km की ऊंचाई पर पृथ्वी की परिक्रमा कर रहे 30 उपग्रहों का एक समूह है | GPS System को मूल रूप से America Government ने Miletery Navigation के लिए Develope किया गया है | आज के टाइम में हर कोई GPS System का use कर सकता है |

आप Planet पर किसी भी Location पर होंगे तो उस लोकेशन पर at least चार GPS Satelite हर समय Visible होते है | हर एक Satelite नियमित रूपसे Current Position और Current Time की Information Transmit करता है | ये GPS Signals प्रकाश की गति से Travelling करते है |

हमारी ये पोस्ट भी पढ़िए :
HTTP की जानकारी हिंदी में 

History of GPS :

1974 में US के Department of Defence द्वारा 11 साल से कार्यरत प्रस्तावित 24 - Satelite GPS System के पहले Satelite को Space में Lounch किया गया | जिसे NAVSTAR के नाम से जाना जाता है | 

1978 से 1985 तक Space में  Department of Defence द्वारा NAVSTAR System में  Total 11 Test Satelites को Lounch किया गया |  जिसे बाद में The GPS System नाम दिया गया | 

1995 तक Department of Defence द्वारा The GPS System में Total 27 Operational Satelite को Space में Lounch किया गया | जिसमे 24 Satelites जो की Active थे और 3 Satelites जो की Spare में थे | 
आशा करता हु की आपको हमारी ये Post जरूर पसंद आयी होगी | आपको हमारी ये Post कैसी लगी इसके बारे में आप हमें Comment Box में Comment जरूर करे | साथ ही आप हमारी इस Post को Social Media Site पर जरूर Share करे | 




Read More